मुझे बनाने में खुद टूट सा गया है।

मैं जब भी अपने पुराने सरकारी
स्कूल के पास से गुजरता हूं,
तो सोचता हूँ

मुझे बनाने में खुद टूट सा गया है।

जब भी मैं अपने बच्चे के प्रायवेट स्कूल
के पास से गुजरता हूँ, मुझे हमेशा लगता है…

मुझे तोड़ कर खुद बनता ही जा रहा हैं।

Dedicated to all parents