Garib and Amir

*छोटा-सा वाक्य है*
*लेकिन अर्थ बहुत बड़ा है*

*अमीर के जीवन में जो महत्व*
*”सोने”” की “”चैन”” का होता है,*

*गरीब के जीवन में वही महत्व*
*”चैन”” से “”सोने”” का होता है ।*