कितना अजीब है ना साहब

*कितना अजीब है ना?*
*साहब*…
84 लाख जीवो में
एक *मानव* ही *धन* कमाता है॥

अन्य कोई *जीव* कभी *भूखा* नहीं मरा
और *मानव* का कभी *पेट नहीं भरा*!