जय श्री श्याम – लाखों भटकते हैं, पर वो एक मंजिल दिखलाता है

लाखों भटकते हैं, पर वो एक मंजिल दिखलाता है, लाखों रोते बिलखते हैं, वो आंसू पोंछने आता है, दिल में

Read more