केवल रोजी-रोटी कमाना ही हुनर की बात नही है

अहंकार दिखाकर किसी रिश्ते को तोड़ने से कहीं अच्छा है कि क्षमा मांगकर उस रिश्ते को निभाया जाए।*
*केवल रोजी-रोटी कमाना ही हुनर की बात नही है….बल्कि परिवार के साथ राजी-राजी रोटी खाना भी बहुत बड़ा हुनर है..!!*