मधुर वाणी घर की धन दौलत और शांति घर की लक्ष्मी कहलाती है

व्यवहार घर का कलश और इंसानियत घर की तिजोरी कहलाती है मधुर वाणी घर की धन दौलत और शांति घर

Read more

झुकने का अर्थ यह कदापि नही होता कि आपने अपना सम्मान खो दिया

झुकने का अर्थ यह कदापि नही होता कि आपने अपना सम्मान खो दिया *हर कीमती वस्तु को उठाने के लिए

Read more

असफलता अनाथ होती है..लेकिन..सफलता के रिश्तेदार बहुत होते हैं..!

असफलता अनाथ होती है.. लेकिन.. ..सफलता के रिश्तेदार बहुत होते हैं..! मुँह पर कड़वा बोलने वाले लोग* *कभी धोखा नहीं

Read more

रिश्ते चाहे कितने ही बुरे हों जायें, लेकिन उन्हें तोड़ना मत।

आजकल रिश्ते बिलकुल रोटी की तरह हो गए हैं। जरा-सी आंच क्या तेज हुई जलकर खाक हो गए। रिश्ते चाहे

Read more

तारों में अकेले चाँद जगमगाता है

तारों में अकेले चाँद जगमगाता है, मुश्किलों में अकेला इन्सान ड़गमगाता है। काँटों से मत घबराना मेरे महापुरुषों, क्योंकि काँटों

Read more

यूं तो उलझे है सभी अपनी उलझनों में

सुंदरता हो न हो, सादगी होनी चाहिए। खुशबू हो न हो, महक होनी चाहिए। रिश्ता हो न हो, बंदगी होनी

Read more